REPLY to “aayurvedam, April,10,2009


aayurvedam
April 10, 2009 at 10:13 PM

गुरूदेव दुनिया का दुर्भाग्य है कि हम जैसे साधारण चिकित्सक अब तक इस चमत्कारी यंत्र का प्रयोग नहीं कर पा रहे हैं लेकिन पूरा यकीन है कि शीघ्र ही ऐसा हो पाएगा कि सारी दुनिया आयुर्वेद का लोहा मानेगी इस यंत्र के द्वारा….
सादर चरण स्पर्श
aayushved@gmail.com

……….Reply by Dr.D.B.Bajpai………. इस [ इलेक्ट्रो त्रिदोष ग्राफी ई०टी०जी० ] तकनीक [यन्त्र] का फायदा और उपयोग देश के लोग बहुत सिद्दत के साथ उठा रहे हैं ।

विश्व का पहला और अकेला ई०टी०जी० केन्द्र, E.T.G. Center, हकीम शरीफ जी, के सहयोग से E-52, खपरा मोहाल, कैण्ट, कानपुर में खुल चुका है । यहां बड़ी सन्ख्या में कानपुर और आसपास के जिलों, दूर दराज के क्षेत्रों, देश के कई राज्यों और विदेशों तक से मरीज आकर अपना ई०टी०जी० करा चुके हैं और आरोग्य लाभ प्राप्त कर रहे हैं ।

ई०टी०जी० करा चुके मरीजों को जब रिपोर्ट से प्राप्त डाटा के आधार पर ” विशुद्ध आयुर्वेद चिकित्सा” दी जाती है, तो रोगी को शीघ्र और निश्चित लाभ होता है । पुरानी बीमारियों से ग्रसित रोगी, असाध्य बीमारियों के मरीज और दीर्घकालीन रोगों से ग्रस्त मरीजों को इस तकनीक और “शुध्ध आयुर्वेद चिकित्सा” से अवश्य लाभ हुआ है ।

इस केन्द्र में रोजाना सुबह ९ बजे से दोपहर २ बजे तक ETG Record किये जाते हैं । अति आवश्यक Emergency condition होने पर दो घन्टे के अन्दर रिपोर्ट दे दी जाती है | अन्यथा दूसरे दिन रिपोर्ट देने का प्रावधान है । कभी कभी बहुत आश्चर्य जनक बीमारियां डिटेक्ट हो जाती हैं , जिनके बारे मे चिकित्सक सोच भी नही सकते । ETG से पता चल जाता है कि क्या बीमारी है और क्या ठीक करना है ।

जैसा आपने कहा है कि यह एक “चमत्कारिक यन्त्र” है और “सारी दुनिया आयुर्वेद का लोहा मनेंगी”, यह एक न एक दिन, शत प्रतिशत सही सिध्ध होगा, ऐसा मेरा विश्वास है । मुझे रोजाना कई कई ETG रिकार्ड करने होते है, उनको देखकर जितना ग्यान मुझे मिल रहा है, वह अनमोल है । इस्की रिपोर्ट पर आधारित होकर जब चिकित्सा व्यवस्था की जाती है तो वह बहुत सटीक और सही होती है और इलाज में भटकाव की गुन्जाइस न के बराबर होती है

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s