स्वाइन फ्लू से बिल्कुल न घबरायें : don’t afraid of Swine Flu


मीडिया में स्वाइन फ़्लू की बहुत चर्चा हो रही है । मैं अपने अनुभव के आधार पर सभी लोगों को बताना चाहता हूं कि इस एपीडेमिक या वाइरस इन्फ़ेक्सन से घबराने की कतई जरूरत नहीं है । पिछले कई दशकों में फ़ैलने वाले वाइरस इन्फ़ेक्सन को मैने बहुत सफ़लता, सुरक्षा और प्रभावी तरीके से ट्रीट किया है और शत प्रतिशत सफ़लता मिली है ।

इस वाइरस के इलाज के लिये Homoeopathic Antibiotic Mother Tincture Mixture का, जो इसी ब्लाग में पिछली किसी डेट मे लिखा जा चुका है, उपयोग करें ।

आयुर्वेद की जड़ी -बूटियों का एक फार्मूला लिख रहा हूं । इस फ़ार्मूले की चाय बनाकर प्रयोग करें । यह भी बहुत उपयोगी है और फ़्लू मे बहुत उप्योगी है ।

फार्मूला : गोरख्मुन्डी, अनन्त मूल, गिलोय, चिरायता, काल्मेघ, नागरमोथा, तुलसी, अदरख, ये सब जड़ी बूटी बराबर मात्रा में ले, मोटा मॊटा कूट लें ।

इसका १० [दस] ग्राम मोटा कुटा हुआ दर्दरा चूर्ण, एक कप पानी में मिलाकर, चाय की तरह उबाल लें, फ़िर छान कर गुनगुना पी लें । दिन में कई बार पी सकते हैं ।

सावधानी:

१- इस बात से बिल्कुल चिन्ता न करें कि यह वाइरस आपको कोई नुकसान पहुचायेगा ।
२- मीडिया इस वाइरस के बारे में भ्रम वाली खबरें देकर , देश के लोगों के मन और मष्तिष्क में दहशत भरने का काम कर रहा है ।
३- यह ध्यान रक्खें कि एलोपैथी में इस वाइरस का कोई इलाज नहीं है, इसलिये शुरू से ही Prevention के तौर पर , जब वाइरस का खतरा हो , तो होम्योपैथी के मदर टिन्क्चर की एक खुराक प्रतिदिन खाते रहें । इससे इन्फ़ेक्सन से बचत होगी ।
४- समान्य स्वास्थय रक्षा के नियमों का पालन करें ।
५- एक कप ऊपर बतायी गयी आयुर्वेदिक चाय पीने से भी वायरस से बचत हो जायेगी ।
६- अगर किसी को Swine Flu का अटैक हो जाये, तो यही दवायें और आयुर्वेदिक चाय २ – २ घन्टे के अन्तर से सेवन करें ।
७- सामन्यत: वाइरस इन्फ़ेक्सन पान्च दिन से लेकर पन्द्रह दिन तक परेशान करते हैं । इसलिये हल्का काम करें, हल्का भोजन करें, आराम करें और मन में शान्ति बनाये रक्खे ।

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s