दिन: मई 2, 2009

बाबा रामदेव की पत्रिका “योग सन्देश “, अप्रैल २००९ के अन्क में ईलेक्ट्रो त्रिदोष ग्राम तकनीक का वर्णन : E.T.G. Technology descriptions in YOGA SANDESH magazine ,April 2009 issue, published by Baba Ram Dev


yogsandesh-april

yogsandesh-page11

yogsandesh-etg-april091

बाबा राम देव द्वारा योग विज्ञान पर प्रकाशित की जाने वाली पत्रिका योग सन्देश के अप्रैल २००९ के अन्क में इलेक्ट्रो त्रिदोष ग्राम तकनीक का उल्लेख किया गया है । हलांकि यह इस तकनीक पर स्वतन्त्र लेख नहीं है, फिर भी विद्वान लेखक नें अपने लेख में इसका उल्लेख करके आयुर्वेद चिकित्सा विज्ञान को अत्याधुनिक तकनीक से लैस होने की बात करके सम्पूर्ण विश्व में यह सन्देश देने की कोशिश की है कि आयुर्वेद भी अब निदान ज्ञान की तकनीक, उन्गलियों के साथ साथ, मशीनी युग में और लैप्टाप तक आ चुकी है और इसे अब किसी भी कीमत पर आधुनिक चिकित्सा विज्ञान से निदान ज्ञान के मामले में कम न आंका जाये ।

बेहतर होता , यदि ई०टी०जी० तकनीक पर , इस पत्रिका में और लेख प्रकशित किये जाते, ताकि विश्व समुदाय को विस्तार से पता चल सके कि यह तकनीक आयुर्वेद में क्या गुल खिला सकती है ?