डायबिटीज का एक केस ; जिसे ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन की फाइन्डिन्ग्स पर आधारित होकर इलाज करने से आरोग्य प्राप्त हुआ


          

एक रोगी जिसकी आयु ४५ साल है, दिनाक २१ जून सन २०१० को क्लीनिक में उपस्तिथि हुआ /

इस रोगी ने बताया कि उसे ५ साल से डायबिटीज की शिकायत है / इस रोगी का खाना हजम नहीं होता है और अपचन की शिकायत बनी रहती है और Digestion ठीक नहीं है / पेट में वायु बनती है और हमेशा गुड़्गुड़ाहट बनी रहती है / खट्टी डकारे आती है / पाखाना ३ या चार दिन बाद होता है लेकिन जब पाखाना होता है तो कई बार पतला पतला लेई जैसा होता है / एक बार में पेट साफ नहीं होता है /

यह रोगी सुबह १० यूनिट और शाम को छह यूनिट इन्सुलीन ले रहा है / इसके साथ खून की शक्कर कम करने के लिये एलोपैथिक डाक्टर द्वारा सुझाई गयी anti-diabetic medicine का भी सेवन कर रहा है /

दवा न खाने पर इस रोगी की खून में सुगर ३०० से अधिक हो जाती थी / जिस समय यह रोगी इलाज के लिये आया था / उस समय इसका वजन 48.5 Kilogram निकला है /
हमारे यहा इलाज कराने के लिये आने वाले रोगियों को पता रहता है कि मै उन रोगियों को ETG AyurvedaScan examination की पहले सलाह देता हू, जिनकी बीमारी पुरानी हो चुकी होती है / इस रोगी को चूकि पान्च साल से तकलीफ थी, इसलिये इस मरीज ने सबसे पहले यही कहा कि आप पहले ETG परीक्षण कर ले और उसके बाद ही दवा करें /

[मरीज का ट्रेस रिकार्ड, जिसमे ळिवर,आन्त,पैन्क्रियाज,सर्कुलेटरी सिस्टम की anomalies दर्ज की गयी है ]

ETG AyurvedaScan परीक्षण करने के बाद , इस रोगी में निम्न बीमारियों के समूह लक्षण पाये गये /

१- Bowels Pathophysiology
२- Colon Ascending inflammation, hardness with swelling
3- Epigastritis with inflammation and hardness
4- Excited mental emotional behaviour
5- Eyes and ENT anomalies
6- Frequent micturition
7- Hormonal anomalies
8- Inflammatory and Irritable bowel syndromes
9- Renal anomalies
10- Pancreatic pathophysiology
11- Rapid pulse
12- Tendency of Diabeties

यहा पुरी रिपोर्ट के कुछ अन्श दिये जा रहे है, जिनसे सभी को पता चल जयेगा कि इस रोगी के शरीर में कितनी कितनी intensities अन्गो और प्रतयन्गों में उपस्तिथि रही /

* Brain and Autonomic Nervous System 198.43 e.v.
* Thyroid 111.11 e.v.
*Epigastrium 60 e.v.
*Large Intestines 55.56 e.v.
*Prostate 52.84 e.v.
*Urinary Bladder 134.34
*Renal anomaly 65.33 e.v.
* Liver 42.00 e.v.
* Heart Pressure 132.86 e.v.
* Sinus nasal 77.78 e.v.
* Heart Rate 95 per minute
* Combined Liver, Spleen, Pancreas anomalies 85 e.v.
* Combined Abdomen/Intestines/ Colon anomalies 55.56 e.v.

आयुर्वेदिक मत के अनुसार इस मरीज का डाटा निम्न प्रकार का प्राप्त हुआ /

प्रकृति ;

VATA 76.07 e.v.
PITTA 62.00 e.v.
KAPHHAA 89.14 e.v.

त्रिदोष ;

VATA 62.66
PITTA 81.51
KAPHHA 117.19

त्रिदोष भेद ;

Praan Vata 86.75
Saman vata 76.07
udaan vata 88.33
apan vata 85.75
vyaan vata 85.06

pachak pitta 85
ranjak pitta 62
sadhakpitta 91
lochak pitta 92
bhraajak pitta 113

shleshaman kaphha 89
snehan kaphha 98
rasan kapha 88
kledan kaphha 86
avalamban kapha 111.43

सप्त धातु;

Ras 91.20
Rakta 85.70
Mans 91.42
Med 85.96
Asthi 101.30
Majja 99.10
Shukra 85.33

पुरीष 85
मूत्र 86
स्वेद 109.07

Oj ओज 46.8 [Normal; 48 ]
Sampurn Oaj सम्पूर्ण ओज; 63.2 [Normal; 84 – 100]

मरीज के मौजूदा रोग और उसकी तकलीफ की व्याख्या ई०टी०जी०रिपोर्ट से प्राप्त डाटा के आधार को देखकर, यह विचार किया गया कि इसे आयुर्वेदिक दवा दी जाय /

[१] पहला विचार यह बना कि मरीज की बड़ी आन्त कि कार्य क्षमता कम हो रही है, जिसके कारण उसे hard constipation की तकलीफ हो रही है /

[२] मरीज को inflammatory & irritable bowel condition होने के कारण पतले दस्त और आम जाने की शिकायत हो रही है /

[३] लीवर/ पन्क्रियाज/ प्लीहा के साथ साथ गुर्दॊ कि कार्य क्षमता मे कमी आ रही है /

[४] अधिक धड़कन यह इन्गित करती है कि आटॊनामिक नरवस सिस्टम और सर्कुलेटरी सिस्टम सामान्य नहीं है /

[५] ई०टी०जी० आयुर्वेदस्कैन के परिक्षण द्वारा निर्धारित मरीज की “प्रकृति” जन्म से ‘कफज और पित्तज’ प्रकार की है /

[६] ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन के परीक्शण द्वारा मरीज के वर्तमान मे “त्रिदोष” की उपस्तिथी ‘कफ़ज और वातज’ निकली है /

[७] सप्त धातुओं का अन्कलन किया गया /

औषधियों का चयन ;

इस रोगी को कुटज घन वटी, आरोग्य वर्धिनी वटी, पुनर्नवा मन्डूर के साथ साथ सारिवद्यासव पीने के लिये दिया गया /

इसे बीच बीच में लवण भास्कर चुर्ण, हिगुआस्टक चूर्ण, त्रिफला चूर्ण , गन्धक वटी और गन्धक रसायन आवश्यकतानुसार दी गयी /

मरीज बीच बीच में अपना रक्त सूगर का परीक्षण कराता रहा / १५ दिन बाद उसने इन्सुलीन का उपयोग बद कर दिया / एक माह बाद उसने सभी anti-diabetic medicines बद कर दीं / अब वह पूरी तरह से ठीक है और हमारे द्वारा दी जा रही दवाइयों का सेवन कर रहा है /

वर्तमान में मरीज की सुगर एक्दम सामान्य है और उसका स्वास्थय भी पहले से बेहतर है /

निष्कर्ष;  Conclusion;

इस केस के उपचार के पश्चात यही निष्कर्ष निकलता है कि ETG AyurvedaScan रिपोर्ट पर आधारित होकर आयुर्वेदिक इलाज करने पर अवश्य ही सफ़लता मिलती है / पहली बात यह है कि इलाज करने मे सही दिशा का पता चल जाता है / दूसरा यह कि सही दिशा से सही दवाओं का चुनाव हो जाता है और इसमें कोई गल्ती होने की सम्भावना समाप्त हो जाती है /  तीसरा मरीज के treatment aur management मे सटीक सुविधा हो जाती है / चौथा यदि पन्चकर्म करते है तो मरीज की पन्चकर्म करने में क्या step  लेने चाहिये और किस बात की सावधानी बरतनी चाहिये/

इससे पहले और वर्तमान में डायबिटीज के रोगियों का  /इलाज सफ़लता पूर्वक किया जा चुका है और वर्तमान मे किये जा रहे है और नित्य नये रोगी इलाज हेतु आ रहे है / ई०टी०जी० आधारित चिकित्सा शरीर के सभी प्रकार के रोगों में फलदायक है , चाहे रोग का कोई भी नाम क्यों न दिया गया हो /

Advertisements

4 टिप्पणियाँ

  1. ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन कहां पर होने की सुविधा है.और इसका खर्च के बारे में तथा इसका पता देने की कृपा करें. धन्यवाद.

    1. ……….डा० डी०बी० बाजपेयी का उत्तर……….वर्तमान में ई०टी०जी० आयुर्वेदस्कैन सेवा की सुविधा केवल कानपुर शहर में दो स्थानों पर उपलब्ध है / ये स्थान निम्न है /

      १- कनक पालीथेर्रेपी क्लीनिक एवं रिसर्च सेन्टर, ६७-७०, भूसाटोली रोड, बर्तन बाज़ार, कानपुर
      और २- हकीम मोहम्मद शरीफ अन्सारी जी, E-52, खलील क्वार्टर्स कम्पाऊन्ड, खपरा मोहाल, कैन्ट, कानपुर

      इसका खर्चा प्रति परीक्षण पहले स्थान पर 800/- रुपये है और दूसरे स्थान यानी हकीम शरीफ साहब के यहां 600/- रुपये है, लेकिन यहां पर मै केवल ETG परीक्षण करके हकीम साहब को रिपोर्ट दे देता हूं और इलाज की सलाह नहीं देता / पहले वाले पते पर सुबह 8 से 10 के बीच में और शाम 6 से 9 के दरमयान ETG record किये जाते है, यह केन्द्र सप्ताह के सभी दिन खुला रहता है / हकीम साहब के यहां सुबह 10 बजे से दिन 1 बजे तक ETG record किये जाते है, शुक्रवार को यह केन्द्र बन्द रहता है /

      आप अपनी सुविधा अनुसार किसी भी केन्द्र में आकर ETG परिक्षण करा सकते है /

  2. मै सहारनपुर उत्तर प्रदेश का निवासी हूं. आपका ब्लॉग देख कर मन में जिज्ञासा हुयी है कि अपना पूरा चेकअप आपसे करवाऊं. इसके लिए मै आपसे मिलना चाहता हूं. लेकिन कानपुर शहर मेने आज तक नहीं देखा है. क्या आपके आसपास कोई ठहरने का स्थान आदि की सुविधा जैसे होटल या धर्मशाला आदि है. जो कि मै आपके अपोइमेन्ट के साथ साथ उसे भी बुक कर सकूं. उसी के अनुसार मै अपनी सीट ट्रेन में रिजर्ब करवाऊंगा.

    क्योंकि मै शुद्ध कर्मकाण्डी सात्विक ब्राह्मण हूं. नए शहर में नई जगह पर खाने आदि का ध्यान रखना पड़ता है. यदि आप इस विषय में मेरा मार्ग दर्शन करा दें तो आपकी अनुकम्पा होगी.

    ………..डा० डी०बी० बाजपेयी का उत्तर……….पन्डित जी, कानपुर एक बड़ा शहर है / रेलवे का एक बड़ा जन्कशन है / दिल्ली से कलकत्ता कि ओर जितनी भी रेल गाड़ी है, यही से होकर जाती है / जी०टी० रोड इस शहर के बीच से होकर जाती है / गोरखपुर से नेपाल जाने का रस्ता भी यही से होकर जाता है / आप सहारन्पुर से दो रास्तों से यहां आ सकते है / [१] सहारन्पुर से लखनऊ आ जायें फिर लखनऊ से कानपुर आयें [२] कुछ रेल गाड़ियां सीधे सहारन्पुर से कानपुर आती जाती है [३] बहुत सी रोड्वेज की बस सहारन पुर से कान्पुर और कान्पुर से सहारन्पुर की सेवा उपलब्ध कराती है / इसलिये यहां आने में और जाने में कोई तकलीफ नहीं होगी /

    बाहर से और दूर दराज की जगहॊ से आने जाने वाले सभी मरीजों के लिये हमारी कोशिस होती है कि उनका जितनी जल्दी हो सके ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन परीक्षण करके रिपोर्ट शीघ्र से शीघ्र दे दी जाय / अगर वे दवा लेना चाह्ते है तो दवा का प्रबन्ध जितनी जल्दी हो सके , दवा का प्रबन्ध कर दिया जाये ताकि वे जितनी जल्दी वापस होना चाहे , अपने घर को वापस हो सकें / परीक्शण और रिपोर्ट बनने में लगभग एक या डेढ घन्टा का समय लग जाता है / हलाकि इसके लिये ४००/- रुपये अधिक देने पड़ते है / दवा का चुनाव और दवा बान्धने मे आधा या एक घन्टा का समय लग जाता है / आपको तीन घन्टे का समय कुल लगाना होगा / अगर केवल ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन परीक्षण कराना है तो कुल एक से डेढ घन्टे का समय लगेगा और उस के बाद आप कही भी जाने के लिये मुक्त है /

    रहने और ठहरने के लिये मेरे दवाखाने के पास ही कई होटल और धर्मशाला है / आप यहां रुक सकते है / मेरे यहा स्नान और मल मूत्र विसर्जन की सुविधा है / आप चाहें तो स्नान आदि की सुविधा का लाभ उठा सकते है /

    रही भोजन आदि की सुविधा, यहा बहुत से ढाबा, मारवाड़ी भोजनालय, खाना बनाने वाले हॊटल बड़ी सन्खया में है / यहां हर तरह का भोजन मिल जायेगा /

    हम कान्यकुब्ज ब्राम्हण है और शुद्ध शाकाहारी है / अगर आपको भोजन व्यवस्था में कोई तकलीफ होगी तो आप हमारे यहां परिवार के साथ भोजन ग्रहण कर लीजियेगा /

    मेरा घर और दवाखाना एक ही बिल्डिन्ग में है और रेलवे स्टेशन से ५०० मीटर तथा जी० टी० रोड झकरकटी बस स्टेशन से लगभग १ किलोमीटर दूर है तथा चुन्नीगन्ज बस स्टेशन से लगभग ५ किलोमीटर दूर है / आटो रिक्शा या रिक्सा वाला आपको मेरे घर तक बहुत आराम से छोड़ देगा /

  3. mujhe 18 mahine se diabites ki problem hai hai main glimmy 2 medicine subhe breakfast se 30 minute pehle le raha hu. abhi last week meri sugar fasting 116 thi, main chata hu iska aisa ilaz ho ki ye normal nahi to control me ho jaye. meri age 42 saal hai. main delhi me rehta hu. mujhe kya karna chaiye iske barein me aap margdarshan kare

    ………..reply by Dr DBBajpai………..aapako diabeties hai yah to pakkaa hai. Isaka ilaj ayurvedic karana chahate hai, yah achchi baat hai, abhi aapaki umar 42 sal ki hai, isaliye aapako bahut satarak rahanaa chahiye ki aapaki diabeties aage adhik nahI badhani chahiye, kayonki diebeties ki takalif bdhane ke saath saath dusari bahut si swasthay se smabndhit smasyaaye badhati hai, jinhe baad me control karana mushkil hota hai

    isake liye behatar yahI hai ki aap apane najadik ke kisi EXPERT AYURVEDIC DOCTOR se samapark karein, unako dikhayein aur unase aushadhi le, khan pan me avashyak iyantran karein, isase aapaki diebeties control rahegi aur age nahI badhegi

    apaki fasting blood sugar samanya se adhik hai, isaliye andazaa yahi hai ki bhojan ke bdd ki suagr level jarur adhik hoga aur yah mere vichar se 250 mg/dl ke as pas honi chahiye. exactly to ap hi bata payenge ki fasting sugar level kitani hai

    hamare yaha agar ilaj karana chahate hai to isake liye apako kanpur ana padega aur ek ETG AyurvedaScan parikshan karana padega, usake baad hi aapaka ilaj ho sakega

    ETG AyurvedaScan ki report par adharit ilaj hamesha phayademand hote hai.

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s