दिन: मई 20, 2011

कोलायटिस यानी बडी़ आन्त की बीमारी


बड़ी आन्त को इग्लिश भाषा में कोलन कहते है / जब इस कोलन में सूजन आ जाती है तो इसे कोलायटिस कहते है / यह एक बहुत प्रचिलित बीमारी है और प्राय: विश्व के सभी देशों के मानव इस बीमारी से ग्रसित होते रहते है /

यह कई तरह की होती है जैसे साधारण कोलायटिस, म्यूकस कोलायटिस, अल्सरेटिव कोलायटिस, इन्फ्लेमेटरी कोलायटिस आदि आदि /

इसमे बड़ी आन्त मे दर्द, सूजन, ऐठन, पाखाना जाने के पहले या दर्मयान या बाद में आन्तों मे दर्द, बार बार पाखाना जाने की इच्छा आदि आदि लक्षण पाये जाते है / हल्का बुखार, भोजन न करने की इच्छा, भूख का कम लगना , अच्छा खाना खाने के बाद भी कमजोर होते जाना आदि लक्शण कोलायटोस के होते है /

आयुर्वेद मे इस बीमारी को जड़ से दुर करने के लिये औषधियां तथा अन्य साधन उपलब्ध है /

औशधियों मे पर्पटी कल्प के अलावा Gastro Intestinal tract पर असर कारक बहुत सी औषधियां है, जिनके कुछ माह तक उपयोग करने से यह बीमारी जड़्मूल से चली जाती है /

दुग्ध आहार अथवा मठा का आहार ४० से ६० दिन तक करने से भी कोलायटिस समाप्त हो जाती है /

चिकित्सा करने के बाद जब मरीज बिल्कुल ठीक हो जाये तो उसे कुछ दिनों तक परहेजी भोजन करना चाहिये /

Advertisements