दिन: मई 23, 2012

कैन्सर के मरीजों में डायबिटीज ; आश्चर्य जनक तथ्य ; Diabetes in Cancer Patients ; an astonishing facts


अभी कुछ मरीज जिन्हे कैन्सर है , उनका इलाज मै कर रहा हूं / ये सभी मरीज देश के नामी गिरामी अस्पतालों में जाकर अपनी जान्च करा चुके है / जिनमे FNAC और Biopsy जैसी जान्च भी शामिल हैं / इन मरीजों को कैन्सर की बीमारी बतायी जा चुकी है / मरीजों ने आयुर्वेदिक चिकित्सा के लिये मुझसे सम्पर्क किया /

ऐसे मरीजों का इलाज ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन की फाइन्डिन्ग्स और डाटा पर आधारित है , जैसा कि आयुर्वेदिक इलाज करने का यह आधुनिक  वैग्यानिक अचूक और सटीक तरीका है / जब ETG AyurvedaScan की report की analysis और synthesis कि गयी तो पता चला कि इन मरीजों को tendency of High Blood Sugar level  है / मैने जब इन रोगियों को बताया कि उनको blood sugar  की बीमारी भी कैन्सर के साथ साथ है, तो इस सभी मरीजों ने इन्कार कर दिया कि उनको तो जीवन में कभी डायबिटीज की बीमारी हुयी ही नही ?

जब मैने उनकी रक्त शर्करा की जान्च की तो इन मरीजों का blood sugar level देखकर बहुत अचम्भा हुआ / इससे पहले मुझे इस बात की कम जानकारी थी कि कैन्सर के मरीजों में High level blood sugar भी होती है / यह जानकर कि कैन्सर के मरीजों को डायबिटीज भी हो जाती है या हो सकती  है, मुझे यह सब evidence देखकर बहुत आश्चर्य हुआ /

बहरहाल आयुर्वेद की आधुनिक निदान ग्यान की तकनीक ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन से प्राप्त आनकड़ों के आधार पर आयुर्वेद की शास्त्रोक्त औषधियों आदि के उपयोग से डायबिटीज का इलाज करने से  मरीजों की रक्त शर्करा सामन्य लेवल पर आ गयी /

मुख और जीभ के एक कैन्सर रोगी को जिसका इलाज पिछले साल नवम्बेर २०११ से चल रहा था / मै इस रोगी को होम्योपैथी दवाओं से इलाज कर रहा हूं / मुझे समझ मे आया कि जीभ और मुख के कैन्सर में होम्योपैथी की कुछ दवायें बहुत कारगर है और इनके उपयोग से जीभ के कैन्सर में अवश्य आराम मिलती है / इसके साथ आवश्यकता होने पर आयुर्वेद और यूनानी दवाओं का उपयोग भी करता हू यदि यह समझ में आता है कि मरीज को इसकी जरूरत है / यह मरीज होम्योपैथी की दवा Hydrastis Q  का सेवन अन्य औषधियों के साथ साथ कर रहा है / दवा से मरीज को बहुत लाभ हुआ और उसके जीभ के सफेद घाव घटकर लगभग ७० प्रतिशत ठीक हो गये / इससे पहले के एक मरीज में अचानक रक्त शर्करा का परीक्शण करने पर रक्त शर्करा का लेवल अधिक निकला था / इस मरीज को सलाह दी कि वह अपनी सूगर की जान्च कराये / जान्च कराने पर इस मरीज की सुगर  Fasting तथा  Postprandial दोनो ही अधिक निकली / अब इस मरीज को सुगर कम और सामान्य लाने के लिये आयुर्वेदिक औषधियों का उपयोग किया जा रहा है /

लीवर कैन्सर के एक रोगी का ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन फरवरी २०१२ में करने के बाद पता चला कि इसे tendency of High Blood Sugar Level  की तकलीफ है / जान्चने पर पता चला कि इसकी सूगर का लेवल 387 mg/dl है / इसे आयुर्वेदिक दवा  दी गयी  है / इस रोगी का हर माह हर ३० दिन बाद एक ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन परीक्षण किया जाता है और उसी आधार पर आयुर्वेदिक दवाओं का चुनाव करके इलाज करने के लिये औषधि वयवस्था की जाती है / इस रोगी की blood sugar कम करने के लिये आयुर्वेदिक दवायें दी जा रही हैं / अब इस रोगी की ब्लड सुगर सामान्य लेवल पर रहती है /

यह सर्वमान्य तथ्य है कि अगर किसी रोगी को  मान लीजिये एक हज़ार रोग हों या रोग के लक्षण हों और उन सब में एक रोग blood sugar   या blood sugar के लक्शणों का हो तो सबसे पहले 999 रोगों को छोड़्कर blood sugar  का इलाज करे या अन्य रोगों के साथ साथ Blood sugar या  Diabetes का भी साथ साथ मुकम्मल इलाज करें, तभी चिकित्सा पूर्ण होती है /

मैने कैन्सर के इन सभी रोगियों को जिनकी Blood sugar level  अधिक रहा उनको आयुर्वेद की रक्त शर्करा कम करने की औषधि देने के बाद इन मरीजों की तकलीफ में आराम मिला /

Advertisements