मूत्र परीक्षण आयुर्वेद ; क्या आयुर्वेद के मूल सिध्धान्तों को मूत्र परीक्षण द्वारा जान्च करके ग्यात कर सकते हैं ?? URINE TEST AYURVEDA ; Can Patient’s URINE examination provides the STATUS QUANTIFICATION OF AYURVEDIC PRINCIPLES???? KPCARC have done it.


AUT01
AUT02
ऐसा शायद पहली बार आयुर्वेद के इतिहास में हुआ है , जब रोगी के मूत्र का laboratory में परीक्षण करके आयुर्वेद के मूल सिध्धन्तों का status quantify किया गया हो / Kanak Poly-therapy Clinic And Research Center, KANPUR, India में Laboratory Test द्वारा जान्च करने की तकनीक का विकास कर लिया गया है और यह आयुर्वेद चिकित्सा को अधिक सटीक और अधिक कारगर बनाने के लिये चिकित्सा कार्य में out-door hospital में उपयोग की जा रही है /

इसके बारे में पिछले कुछ blog posts में उल्लेख किया जा चुका है और बताया जा चुका है /

रक्त के द्वारा त्रिदोष और सप्त धातुओं का status quantify करने के बारे मे पहले जान्कारी दी जा चुकी है लेकिन मूत्र परीक्शण द्वारा त्रिदोष और त्रिदोष भेद और सप्त धातुओं के विष्लेषण के साथ constituents of Urine के बारे में भी कितनी मात्रा में मरीज के मूत्र में यह उपस्तिथि है , इसे जान लेने की तकनीक विकसित कर ली गयी है /

यहां दी गयी रिपोर्ट देखिये और आधुनिक आयुर्वेद मूत्र परीक्षण के बारे मे जानकारी लें /

अब रोगी के मूत्र का परीक्षण आयुर्वेद के मूल सिध्धान्तों पर आधारित होकर निदान और रोग निदान की दिशा में evidence based हो चुका है /

Advertisements

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s