LEUCODERMA CASE ; PROGRESSING FOR CURE ; सफेद दाग , लियूकोडर्मा का एक केस जिसे ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन तकनीक आधारित आयुर्वेदिक इलाज से फायदा


दिनान्क २८ अगस्त २०१३ को एक २७ साल के लड़्के ने सफेद दाग के इलाज के लिये मेरे OUT DOOR HOSPITAL मे consultation के लिये समपर्क किया था / इस लड़्के के सारे शरीर पर छोटे बड़े सैकड़ों की सन्ख्या मे LUECODERMA यानी सफेद दाग के चकत्ते पड़े हुये थे, जो उसको पिछले १५ साल पहले हुये थे / इसके पिता एक होम्योपैथी के डाक्टर है जो प्रैक्टिस करते है / वे ही इसे लेकर इलाज के लिये मेरे OUT-DOOR HOSPITAL मे लेकर आये थे /

मैने उनको बताया कि बिना ई०टी०जी० आयुर्वेदास्कैन और आयुर्वेद के रकत और पेशाब के परीक्शन के इलाज कराना बेकार है / LEUCODERMA के ईलाज के लिये परीक्षण कराना सबसे पहली आवश्यकता है /

दिनाक २८ अगस्त २०१३ को इस लड़्के का शरीर के दो हिस्सो का PHOTOGRAPH लिया गया था / नीचे दिया गया photograph इसी दिन का है /
OLYMPUS DIGITAL CAMERA
यह PHOTOGRAPH मरीज के scapular region यानी पीठ के हिस्से से लिया गया है / हलान्कि मरीज का सारा शरीर सफेद दाग के चकत्तों से भरा हुआ था लेकिन इलाज की progress देखने के लिये आवश्यक होता है कि PHOTOGRAPHs लेकर मानीटरिन्ग की जाय, क्योन्कि किसी को भी याद नही रहता कि किस समय सफेद दाग की क्या स्तिथि पहले क्या थी और कैसी थी ? अमूनन दो या तीन स्थानो से photographs लिये जाते है / इसी दिन एक दूसरा नीचे दिया गया photographsलिया गया जो बाये सीने की बायी तरफ की आठवी पसली के ऊपर का है/
OLYMPUS DIGITAL CAMERA

दिनान्क २१ जनवरी २०१४ को इस मरीज को फालो-अप के लिये बुलाया गया था , फालो अप की जान्च मे और उसी समय comparison के लिये दुबारा PHOTOGRAPHS उन्ही शरीर के सफेद दाग के स्थानों के लिये गये है, जहा पहली बार सफेद दागों के चित्र उतारे गये थे/ पिछली तारीख दिनान्क २८ अगस्त २०१३ के चित्र को देखकर और दिनान्क २१ जनवरी २०१४ के चित्र का तुलनात्मक मूल्यान्कन करके आप सभी आयुर्वेद प्रेमी और चिकित्सक बन्धु स्वयम ही निर्णय करें कि लगभग १५० से अधिक दिनों के आयुर्वेद के इलाज के बाद सफेद दागो मे कितना परिवरतन हुआ है / यह चित्र पीठ के scapular region का है, जो दिनान्क २१ जनवरी २०१४ को अनकित किया गया है /
OLYMPUS DIGITAL CAMERA

यह दूसरे स्थान का चित्र है जो बायी तरफ की पसली के ऊपर का है और यह भी दिनान्क २१ जनवरी २०१४ को अन्कित किया गया है / तुलनात्मक परिवर्तन साफ साफ दृष्टि गत है कि कितना सफेद दाग ठीक हुआ है /
OLYMPUS DIGITAL CAMERA

इस रोगी के सारे शरीर मे हो गये सफेद दाग LEUCODERMA PATCHES ; white spots मे परिवरतन हुये है और त्वचा का सामान्य रन्ग प्राकृतिक तौर पर होता जा रहा है /

हमारे रिसर्च केन्द्र मे बड़ी सन्ख्या में सफेद दाग के रोगियों का इलाज किया जा रहा है और सभी ठीक हो रहे है / हमने हमेशा कहा है कि अब LEUCODERMA असाध्य या लाइलाज बीमारी नही रह गयी है और अब इसका इलाज आयुर्वेद चिकित्सा विग्यान मे उपलब्ध है / हम यहां उन्ही सफेद दाग के रोगियों के चित्र सार्वजनिक रूप से उपलब्ध कराते है , जो हमे इसकी प्रकाशन के लिये अनुमति देते है / सभी मरीज अपने रोग के बारे मे कुछ भी बताने से इनकार करते है, इसलिये मरीजों की निजता का ख्याल करके हम उतना ही बताने का प्रयास करते है , जितना कि सम्भव होता है /

LEUCODERMA के इलाज के लिये जिस तकनीक और इलाज के तरीके का उपयोग किया जाता है , वह निम्न प्र्कार से है ;

१- Step 1 – Ayurveda Thermal Mapping and scanning करते है
२- Step 2 – E.T.G. AyurvedaScan मशीन से सारे शरीर का परीक्षण करते है
३- Step 3 – E.T.G. mapping and trace scanning record करते है
4- Step 4 – Ayurveda Blood Examination और
५- Step 5 – Ayurveda Blood Chemical Chemistry examination करते है
६- Step 6 – Ayurveda Urine examination करते हैं
७- Step 7 – Ayurveda Urine Chemical Chemistry examination करते है
८ – Step 8 – Physical examination
९ – आवश्यक होने पर Ayush SONO Examination करते है
१० – आवश्यक होने पर TREAD MACHINE E.T.G. AyurvedaScan Examination करते है
११ – और इन सबके अलावा अन्य बहुत से परीक्षण हैं जो मरीज की रोग-निदान की आवश्यकता के अनुसार तय करके किये जाते है /

इस तरह की प्रक्रिया करने मे दो घन्टे से लेकर चार पान्च घन्टे जान्च करने मे लग जाते है /

सारा डाटा कम्प्यूटर मे फीड करके कम से कम २०० पेज की रिपोर्ट तैयार की जाती है, २०० पेज से अधिक पेज की रिपोर्ट इस बात पर निर्भर करती है कि मरीज की तकलीफ के हिसाब से क्या क्या और कौन कौन से परीक्षण किये गये हैं /

इसमे लगभग कम से कम ६ घन्टे से लेकर १२ घन्टे तक लग जाते है , कभी कभी series of examination के लिये अधिक समय परीक्षण के लिये जरूरी होता हैं/ ऐसे परीक्षण के लिये डाटा जुटाने के लिये दो या तीन दिन की जरूरत होती है /

साधारण तौर पर परीक्षण सुबह ९ बजे के आस पास किये जाते हैं / शाम ६ बजे तक रिपोर्ट तैयार कर दी जाती है और मरीज उसी दिन अपने destination के लिये वापस जा सकते हैं / 99 % प्रतिशत मरीज उसी दिन वापस कर दिये जाते है / बहुत जरूरी मरीजो को ही परीक्षण पूरा करने के लिये रूकने की सलाह दी जाती है / अन्यथा एक दिन मे ही परीक्षण पूरा करके उसी दिन मरीज को शाम तक रिपोर्ट देकर वापस कर दिये जाते है /

मरीज के २०० पेज में प्राप्त सारे डाटा के observation के बाद 3 dimensional DIAGNOSIS करके जो भी माकूल आयुर्वेदिक या होम्योपैथिक अथवा इस दोनॊ के combination की दवाये होती है , वे मरीज को उपयोग के लिये suggest कर दी जाती हैं और एक निश्चित अवधि के लिये दवाओं के उपयोग की सलाह दी जाती है / सारी की सारी आयुर्वेदिक या होम्योपैथिक दवाये मरीज को बाज़ार से लेकर उपयोग करना होता है / हमारे यहां से कोई भी आयुर्वेदिक या होम्योपैथिक दवा नही दी जाती है . मरीज को सब दवाये आयुर्वेदिक स्टोर से खरीद कर उपयोग करना होता है / हमारे द्वारा suggest की गयी सभी दवाये भारत और विदेशों मे सभी जगह मिल जाती है / मरीज कही से भी दवा खरीद कर प्रयोग कर सकता है /

मरीज को खान-पान के लिये क्या खाना पीना है और दिन चर्या में उसे क्या क्या करना है और क्या क्या नही करना है यह एक पूरी फाइल मे अन्कित करके बता दिया जाता है /

दवाओं के निर्धारित समय तक उपयोग करने के बाद मरीज को सलाह दी जाती है कि दुबारा आकर अपनी दवा समय और मौसम और परिस्तिथियों के अनुसार अनुकूल सेट अप करा लें /

इस तरह की प्रक्रिया को अपनाते हुये हमारे रिसर्च केन्द्र मे आने वाले सफेद दाग के मरीज अवश्य ठीक होते हैं / इसी तरह की प्रक्रिया अपनाकर शरीर के अन्दर होने वाली सभी बीमारियो का इलाज किया जाता है चाहे उनका कोई भी नाम हो और वे बीमारियां कैसी भी हों /
ad002

2 टिप्पणियाँ

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s